Home Jobs CBSE Board Examination 2021| CBSE extends the final date for importing marks...

CBSE Board Examination 2021| CBSE extends the final date for importing marks of sophistication 10th, now faculties will have the ability to submit marks by 30th June | बोर्ड ने 10वीं के मार्क्स अपलोड करने की आखिरी तारीख बढ़ाई, अब 30 जून तक मार्क्स सबमिट कर सकेंगे स्कूल

31
0

  • Hindi News
  • Career
  • CBSE Board Examination 2021| CBSE Extends The Final Date For Importing Marks Of Class 10th, Now Colleges Will Be In a position To Submit Marks By 30th June

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

four मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
clipboard 671620733924 1621329534

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने स्कूलों के लिए 10वीं कक्षा के मार्क्स अपलोड करने की समय सीमा बढ़ा दी है। अब CBSE से संबद्ध सभी स्कूल 30 जून तक मार्क्स अपलोड कर सकेंगे। इसके साथ ही बोर्ड ने रद्द की गई 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं के आंतरिक मूल्यांकन के मार्क्स जमा करने की तारीख को भी 30 जून तक बढ़ा दिया है। बोर्ड ने कोरोना के कारण बने हालातों को देखते हुए यह फैसला किया।

मौजूदा हालात के चलते लिया फैसला

इस बारे में CBSE नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि CBSE शिक्षकों की सुरक्षा और स्वास्थ्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है। ऐसे में महामारी की स्थिति, राज्यों में लॉकडाउन और टीचर्स की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने मार्क्स अपलोड करने की आखिरी तारीख बढ़ाने का फैसला किया है। ” इसके साथ ही बोर्ड ने 10वीं कक्षा का रिवाइज्ड टेबुलेशन शेड्यूल भी जारी किया है।

10 मई को ओपन हुआ ‘ई- परीक्षा’ पोर्टल

इससे पहले बोर्ड ने 10 मई को ‘ई- परीक्षा’ पोर्टल ओपन करते हुए सभी संबद्ध स्कूलों को 1 मई को जारी की गई ऑल्टरनेटिव असेसमेंट स्कीम के मुताबिक 10वीं कक्षा के स्टूडेंट्स के मार्क्स 11 जून तक या उससे पहले अपलोड करने के निर्देश दिए थे। साथ ही स्कूलों को 20 जून तक रिजल्ट भी जारी करने को कहा था।

बोर्ड ने जारी की असेसमेंट स्कीम

CBSE ने 1 मई को 10वीं कक्षा के लिए असेसमेंट स्कीम जारी कर घोषणा कर दी थी कि 10वीं क्लास के स्टूडेंट्स को हर विषय के लिए 100 में से मार्क्स दिए जाएंगे। इनमें 20 मार्क्स इंटरनल असेसमेंट से दिए जाएंगें और 80 मार्क्स साल भर में आयोजित अलग-अलग परीक्षाओं के आधार पर दिए जाएंगे। स्कूलों द्वारा स्टूडेंट्स का डेटा अपलोड के बाद इसे एडिट या मॉडिफाई नहीं किया जा सकेगा।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here