Home Jobs IIT Delhi will soon start Energy Engineering Department, apart from M Tech...

IIT Delhi will soon start Energy Engineering Department, apart from M Tech courses, BTech courses will also be started | IIT दिल्ली जल्द शुरू करेगा एनर्जी इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, एम टेक कोर्सेज के अलावा बीटेक कोर्स की भी होगी शुरुआत

23
0

  • Hindi News
  • Career
  • IIT Delhi Will Quickly Begin Power Engineering Division, Aside From M Tech Programs, BTech Programs Will Additionally Be Began

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
clipboard 12 1622533974

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT), दिल्ली जल्द ही एनर्जी इंजीनियरिंग के लिए एक नया डिपार्टमेंट शुरू करने जा रहा है। इस बारे में इंस्टीट्यूट ने एक बयान में कहा कि नया विभाग – एनर्जी साइंस और इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, सेंटर फॉर एनर्जी स्टडीज की मदद से गतिविधियों के “स्कोप एंड डेप्थ” का विस्तार करेगा। इंस्टीट्यूट के बोर्ड ने एनर्जी स्टडी सेंटर को एनर्जी साइंस और इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में बदलने के लिए पहले ही मंजूरी दे दी है।

टीचिंग और रिसर्च एक्टिविटीज पर होगा फोकस

IIT दिल्ली ने बताया कि नए डिपार्टमेंट से एनर्जी की फील्ड में इंस्टीट्यूट की टीचिंग और रिसर्च एक्टिविटीज पर फोकस किया जाएगा। साथ ही विजिबिलिटी प्रदान करने और वैश्विक स्तर पर एनर्जी ट्रांजिशन की दिशा में भी प्रभावी योगदान देने की उम्मीद है। विभाग सभी स्तरों पर जरूरी मैनपावर तैयार करने के लिए एनर्जी की फील्ड में उपयुक्त एकेडमिक प्रोग्राम की पेशकश करेगा।

इसके अलावा नया डिपार्टमेंट बेस्ट फैकल्टी, स्टूडेंट्स और स्टाफ को आकर्षित करेगा और इंस्टीट्यूट में और अन्य संस्थानों के साथ फैकल्टी सहयोगियों के बीच सक्रिय और प्रभावी सहयोग के लिए एक प्लेटफॉर्म भी मुहैया कराएगा।

बीटेक कोर्स की होगी शुरुआत

सेंटर फॉर एनर्जी स्टडीज के तहत तीन मौजूदा एम टेक प्रोग्रामों के साथ ही नया डिपार्टमेंट एकेडमिक सेशन 2021-22 से एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम – बीटेक इन एनर्जी इंजीनियरिंग भी ऑफर करेगा। बीटेक इन एनर्जी इंजीनियरिंग के लिए जेईई (एडवांस्ड) क्वालिफाई करने वाले 40 स्टूडेंट्स एडमिशन दिया जाएगा।

स्टूडेंट्स को मिलेगा जरूरी नॉलेज

नए बीटेक कोर्स के बारे में जानकारी देते हुए, सीईएस के प्रमुख, प्रोफेसर के ए सुब्रमण्यम ने कहा कि “बीटेक इन एनर्जी इंजीनियरिंग प्रोग्राम को स्टूडेंट्स को जरूरी ज्ञान और कौशल से लैस करने के लिए डिजाइन किया गया है, जिससे वे ह्यूमैनिटी के सामने आने वाली एनर्जी फील्ड की चुनौतियों का सामना कर सकें।

खबरें और भी हैं…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here