Home Jobs MP Breaking UG and PG admissions will start from 1st August; First...

MP Breaking UG and PG admissions will start from 1st August; First year engineering classes will start from 15th September, second, third and fourth year from 2nd August | यूजी और पीजी में 1 अगस्त से प्रवेश शुरू होगा; फर्स्ट ईयर इंजीनियरिंग की क्लास 15 सितंबर से, सेकंड, थर्ड और फोर्थ ईयर की 2 अगस्त से शुरू होंगी

42
0

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • MP Breaking UG And PG Admissions Will Begin From 1st August; First Yr Engineering Lessons Will Begin From 15th September, Second, Third And Fourth Yr From 2nd August

भोपाल7 मिनट पहलेलेखक: अनूप दुबे

  • कॉपी लिंक
मंत्री समूह की बैठक में उच्च शिक्षा का रोड मैप तैयार हुआ। - Dainik Bhaskar

मंत्री समूह की बैठक में उच्च शिक्षा का रोड मैप तैयार हुआ।

  • इंजीनियरिंग में प्रवेश JEEE मेन्स तथा 12वीं के रिजल्ट के आधार पर दिया जाएगा

मध्यप्रदेश में कॉलेज अनलॉक होने जा रहे हैं। मंत्री समूह की बैठक में चर्चा के बाद नया शिक्षण सत्र कैलेंडर जारी किया गया। तकनीकी शैक्षणिक संस्थाओं में नवीन सत्र का सेकंड, थर्ड और फोर्थ ईयर की इंजीनियरिंग कक्षाओं के लिए 2 अगस्त से होगा। फर्स्ट इयर इंजीनियरिंग की कक्षाएं 15 सितंबर से आरंभ होंगी।

यह है कलैंडर

  • प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय वर्ष डिप्लोमा की कक्षाएं 17 अगस्त
  • आईटीआई की द्वितीय वर्ष की कक्षाएं 12 जुलाई
  • आईटीआई की प्रथम वर्ष की कक्षाएं 16 अगस्त
  • फर्स्ट इयर इंजीनियरिंग में प्रवेश जेईईई मेन्स तथा मध्यप्रदेश हायर सेकेंडरी बोर्ड की 12वीं परीक्षा परिणाम के आधार पर लिया जाएगा।
  • प्रथम वर्ष डिप्लोमा में प्रवेश के लिए हाई स्कूल परीक्षा परिणाम को आधार माना जाएगा। आईटीआई की प्रवेश प्रक्रिया 31 जुलाई तक पूर्ण कर ली जाएगी।

छात्रों को कोरोना पेडेंमिक प्रबंधन की ट्रेनिंग दी जाएगी

पैरामेडिकल डिग्री/डिप्लोमा पात्रता परीक्षाएं जून-जुलाई माह में होंगी। पैरामेडिकल सर्टिफिकेट परीक्षाएं जुलाई माह में ली जाएंगी। बीएससी एवं एमएससी नर्सिंग की परीक्षाएं मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय द्वारा जुलाई माह में आयोजित की जाएंगी। मेडिकल एवं दंत चिकित्सा शिक्षा के अंतर्गत स्नातक एवं स्नोतकोतर पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए राज्य सरकार द्वारा नीट, यूजी/पीजी की परीक्षा उपरांत सत्र आरंभ किया जाएगा। कक्षाएं ऑफलाइन पद्धति से संचालित होंगी। कोरोना पेडेंमिक तीसरी लहर की तैयारी के तहत प्रारंभ के 15 दिवस में विद्यार्थियों को कोरोना पेडेंमिक प्रबंधन की ट्रेनिंग दी जाएगी।

परीक्षा परिणाम अगस्त में जारी होगा

मंत्री समूह द्वारा प्रस्तुत अनुशंसाओं में उच्च शिक्षा विभाग के अंतर्गत ओपन बुक परीक्षा एवं परीक्षा परिणाम के संबंध में बताया गया कि स्नातक तृतीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर की परीक्षा परिणाम जुलाई 2021 में, स्नातक प्राथम/द्वितीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं जुलाई 2021 में और स्नातक प्रथम/ द्वितीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर द्वितीय वर्ष के परीक्षा परिणाम अगस्त 2021 में जारी किए जाएंगे।

1 अगस्त से एडमिशन होंगे

स्नातक प्रथम वर्ष एवं स्नातकोत्तर प्रथम सेमेस्टर के लिए प्रवेश प्रक्रिया एक अगस्त से आरंभ होगी। स्नातक द्वितीय तथा तृतीय वर्ष एवं स्नातकोत्तर तृतीय सेमेस्टर की कक्षाओं के लिए प्रवेश प्रक्रिया एक से 30 अगस्त 2021 तक चलेगी। स्नातक प्रथम, द्वितीय, तृतीय वर्ष तथा स्नातकोत्तर प्रथम एवं तृतीय सेमेस्टर के लिए नवीन सत्र 01 सितंबर से आरंभ होगा। जिला आपदा प्रबंधन समिति के परामर्श पर महाविद्यालयवार समय सारिणी अनुसार विद्यार्थियों की 50 प्रतिशत भौतिक उपस्थिति के साथ कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। प्रयोगशालाओं का संचालन विद्यार्थियों की 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ किया जाएगा। छात्रावासों और ग्रंथालय विद्यार्थियों की भौतिक रूप से उपस्थिति के साथ कक्षाओं के आरंभ होने पर चरणबद्ध रूप से आरंभ किए जाएंगे।

क्लीनिकल विषय पर 6-6 छात्रों के समूह में लगेंगी कक्षाएं

आयुष से संबंधित संस्थाओं में शैक्षणिक सत्र 2021-22 के प्रवेश नीट परीक्षा 2021 के परीक्षा परिणाम उपरांत ऑनलाइन काउंसलिंग के माध्यम से सम्पन्न कराए जाएंग। आयुष पाठ्यक्रम की कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन मोड में जारी रहेगा। क्लीनिकल विषय के लिए कैम्पस में भौतिक रूप से उपस्थिति छात्रों के 6-6 के समूह बनाकर सुनिश्चित की जाएगी।

आयुष के अंतर्गत समस्त परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में संचालित की जाएंगी। बीएएमएस की परीक्षाएं 7 जुलाई से 25 अगस्त तक, बीएचएमएस की परीक्षाएं 30 जून से 24 जुलाई तक और बीयूएमएस की परीक्षाएं 30 जून से 30 जुलाई तक आयोजित की जाएंगी।

18 वर्ष के सभी छात्रों को वैक्सीन लगेगी

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि समस्त शैक्षणिक गतिविधियों में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी विद्यार्थियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण और शैक्षणिक परिसरों में कोविड अनुकूल व्यवहार का अनुसरण अनिवार्यता सुनिश्चित किया जाए। जिनका वैक्सीनेशन नहीं होगा, उन्हें परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाए।

खबरें और भी हैं…

.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here